बी. एड. एम.एड., बी.पी.एड. एवं एम. पी. एड. की प्रवेश कांउसलिंग का द्वितीय चरण आज से प्रारम्भ

सेंधवा। उच्च शिक्षा विभाग के निर्देशानुसार बीएड, एमएड बी.पी.एड. एवं एम. पी. एड सत्र 2022-23 में द्वितीय चरण में प्रवेश की काउंसलिंग 26 मई से 01 जून 2022 तक आवेदकों द्वारा ऑनलाइन पंजीयन एवं संस्थाओं के चयन होने के बाद पंजीकृत आवेदकों को दस्तावेजों के सत्यापन हेतु महाविद्यालय में जाने की आवश्यकता नहीं होगी ।

आवेदक के दस्तावेजों के सत्यापन की प्रक्रिया शासकीय महाविद्यालयों (हेल्पसेंटर) के माध्यम से ऑनलाईन सम्पन्न की जायेंगी। यदि किसी आवेदक ऑनलाइन सत्यापन होने के बाद उसके फार्म में कोई त्रुटि हो जाती है उस आवेदक को कोई हेल्प सेंटर पर उपस्थित होकर त्रुटी में सुधार कराना होगा तभी उसका सत्यापन मान्य होगा यदि आवेदक त्रुटि में सुधार नहीं करवाता है तो उसका प्रवेश मान्य नहीं होगा बडवानी जिले में एन.सी.टी.ई के पाठ्यक्रम के हेल्प सेन्टर शासकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय बड़वानी , शासकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय सेंधवा शासकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय निवाली है।

एम पी आनलाइन कियोस्क सेंटर के माध्यम से ही ऑनलाइन पंजीयन एवं सत्यापन होगा जिन आवेदकों ने काउंसलिंग के प्रथम चरण में पंजीयन एवं ऑनलाईन दस्तावेजों का सत्यापन हो चुका है ऐसे आवेदकों का प्रथम चरण में आवंटन 30 गई 2022 को होगा यदि उनको 30 मई 2022 को कोई भी कॉलेज अलॉट नहीं हुआ है या कॉलेज अलॉट होने पर प्रवेश नहीं लेना चाहता है ऐसे आवेदकों को द्वितीय चरण में 01 जून 2022 को पुनः च्वाइस फिलिंग करना होगा।

शारीरिक शिक्षा संस्थान के प्राचार्य इम्तियाज मंसूरी ने बताया की ऐसे विद्यार्थी जो स्नातक उत्तीर्ण है और खेल के क्षेत्र में करियर बनाना चाहते हैं वह bp.ed में प्रवेश प्राप्त कर, प्रवेश प्राप्त एवं अशासकीय विद्यालयों में खेल प्रशिक्षक के तौर पर नियुक्ति पा सकते है उन्होंने बताया एजुकेशन में मास्टर डिग्री प्राप्त करने के इच्छुक ऐसे विद्यार्थी न्यून्तम 50 % अंको के साथ उत्तीर्ण है या डी.एल.एड या स्नातक दोनो उपाधि 50 प्रतिशत अंको से उत्तीर्ण हो एम. एड में प्रवेश ले सकते है।

अजजा एवम अजा विद्यार्थी के लिये न्यूतन 45 प्रतिशत अंको की आवश्यकता होगी। बी.पी. एड और एम.पी.एड के पाठ्यक्रम के सत्यापन के लिए हेल्प सेंटर देवी अहिल्या विश्वविद्यालय इंदौर के स्कुल ऑफ फिजिकल एज्यूकेशन खंडवा रोड इन्दौर एवं डिपार्टमेंट कन्टीन्यूइंग एप्प्यूकेशन विक्रमविश्वविद्यालय उज्जैन दोनों में से एक हैल्पसेंटर पर उपस्थित होकर फिटनेस टेस्ट देना अनिवार्य होगा तभी प्रवेश परीक्षा में हिस्सा ले सकेंगे।

आवेदको के लिये संस्था स्तर पर हेल्प डेस्क बनाई गई है जहा आवेदक आकर प्रवेश संबंधित मार्गदर्शन व जानकारी ले सकते हैं ।

हिमांशु मालाकार की रिपोर्ट

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!