अंजनगांव के शोक संतृप्त परिवार को ढांढस बंधाने पहुँचा प्रशासन

खरगोन। भगवानपुरा जनपद के अंजनगांव में 26 अक्टूबर को पेट्रोल डीजल टेंकर के धमाके में प्रभावित परिजनों को ढांढस बंधाने के लिए कलेक्टर ,एसपी सहित जिला प्रशासन के आला अधिकारी घटना स्थल व गांव पहुँचे। रविवार सुबह कलेक्टर श्री कुमार पुरुषोत्तम और एसपी श्री धर्मवीर सिंह ने शोक संतृप्त में डूबे परिजनों से मिलकर ढांढस बंधाया। कलेक्टर श्री कुमार ने कहा कि परिजन और गांव दुखी तो है ही ,प्रशासन भी पीड़ा में है। जो चले गए है उनकी क्षतिपूर्ति तो कोई नही कर सकता लेकिन प्रशासन परिवारों को बिखरने नही देगा। परिवार में जितनी पालको और बेटो ने व्यवस्था कर रखी थी, उतनी ही व्यवस्था प्रशासन भी सुनिश्चित करेगा। परिजनों को ढांढस बंधाते हुए कलेक्टर श्री कुमार ने कहा कि अगले 7 दिनों में शासन की योजनाओं से तो सहायता करेंगे ही साथ ही प्रशासन कोशिश में है कि आगे और क्या कुछ किया जा सकता है। आगे परिजनों ,बच्चों की जिंदगी बिना कष्ट के बीते यह हम सुनिश्चित करेंगे। एसपी श्री धर्मवीर सिंह ने कहा कि पूरा प्रशासन आप लोगो की मदद के लिए सारे प्रयास कर रहा है न सिर्फ सहायता राशि के द्वारा बल्कि आगे लिए भी बेहतर करने के प्रयास जारी है।

▪️सरपंच प्रभावित परिजनों से मिलकर आगे की रूपरेखा करे तैयार

कलेक्टर श्री कुमार ने गांव के सरपंच उमराव वास्कले से कहा कि सहायता राशि की चिंता न करे। आपको अब आगे किस तरह प्रभावितो की जिंदगी बेहतर की जा सकती है। हर एक परिजन से मिलकर प्लान करें। चाहे वो शिक्षा के लिए हो , रोजगार के लिए हो या अन्य किसी तरह से मदद करनी हो प्रशासन पीछे नही हटेगा। कलेक्टर श्री कुमार ने कहा कि किसी भी परिजन को सहायता राशि प्राप्त करने के लिए किसी कार्यालय या खरगोन नही आना पड़ेगा। प्रशासन अपना कार्य सुनिश्चित करेगा। एसडीएम श्री ओमनारायण सिंह और जनपद सीईओ श्री आरिफ खान इसी कार्य में लगे है। परिजनों को सम्बन्धित विभागों के अधिकारियों के नम्बर भी दिए गए।

▪️अंत्येष्टि सहायता राशि प्रदाय की गई

प्रभावित परिजनों में मृतक परिवार के वैध वारिसों को जनपद सीईओ आरिफ खान ने 10-10 हजार रुपये की अंत्येष्टि सहायता राशि प्रदान की गई। इस दौरान जिला पंचायत सीईओ श्रीमति ज्योति शर्मा,एसडीएम श्री ओमनारायण सिंह, तहसीलदार मुकेश मचार, जनपद सीईओ आरिफ खान, जनजाति कार्य विभाग के सहायक आयुक्त श्री नीलेश रघुवंशी, बीएमओ सीडीपीओ और पुलिस विभाग के अधिकारी मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!