खरगोन पुलिस की कॉम्बिंग गस्त के दौरान गौवंश तस्कर के विरूद्व बडी कार्यवाही

गौवंश जीवित 57 नग एवं 04 गौवंश मृत कुल 61 नग गौवंश किमती 540000 रूपये,परिवहन मे उपयोग किया गया हैवी ट्क।

मुख्यमंत्री मध्यप्रदेश शिवराज सिंह चौहान एवं पुलिस मुख्यालय भोपाल से प्राप्त निर्देशो के उपरांत अतिरिक्त पुलिस महानिरीक्षक इंदौर ग्रामीण जोन इंदौर श्री राकेश गुप्ता, पुलिस उप महानिरीक्षक निमाड़ रेंज खरगोन श्री तिलक सिंह व पुलिस अधीक्षक खरगोन श्री धर्मवीर सिंह के मार्गदर्शन में जिले के समस्त थानों को अवैध शराब, अवैध मादक पदार्थ के भंडारण व अवैध गोवंश परिवहन करने वालों के विरुद्ध विशेष कॉम्बिंग गश्त कर कड़ी से कड़ी कार्यवाही करने हेतु आदेशित किया गया था। जिसके परिणामस्वरूप थाना चेनपुर की अवैध गोवंश तस्कर के विरुद्ध बड़ी कार्यवाही।

10 दिसंबर को मुखबिर द्वारा सूचना प्राप्त हुई कि एक राजस्थान पासिंग नंबर का ट्रक मे गौवंश ठुस ठुस कर तिरपालसे ढककर पाडल्या फाटा तरफ से महाराष्ट की और आने वाला है। सूचना पर तत्काल कार्यवाही करते हुए प्रभारी थाना चौनपुर निरीक्षक निर्मल कुमार श्रीवास के नेतृत्व मे पुलिस टीम का गठन कर पुलिस टीम को मुखबिर के बताए स्थान पर रवाना किया गया। एवं पलोना फाटा पर पाडल्या तरफ से आने वाले वाहनो को चेक करते एक ट्रक मे मुखबिर द्वारा बताया गया उक्त नंबर का ट्रक पाडल्या तरफ से आता दिखा जिसको रोकने का प्रयास किया गया किन्तु ट्रक का ड्राइवर ट्रक को रोड किनारे खडा करने लगा जिससे पहाडी मे टकरा कर रोककर ड्राइवर जगंल एवं पहाडी क्षेत्र का फायदा उठाकर ट्रक की चाबी लेकर भाग गया। पुलिस टीम द्वारा उक्त पकडे गए ट्रक मे चेक करते ट्रक मे डबल पाटीशन बनाकर गौवंश ठुस ठुस कर क्रुरता पूर्वक रस्सियो से खीचकर गला एवं पैर बंधे हुये थे दोनो पाटीशन मे भरे गौवशं को बारीकी से चेक कर 57 गौवंश जीवित एवं 4 गोवंश मृत पाये गये गौवंश मे गाय केडे व सांड भरे थे।

उक्त गौवंश को महाराष्ट ले जाया जा रहा था। ट्रक चालक फरार होने के कारण ट्रक के अज्ञात चालक के विरूद्व थाना चौनपुर मे धारा पशुओ के प्रति क्रुरता का निवारण अधि. अपराध पंजीबद्व किया गया।

कार्यवाही मे अनुविभागीय अधिकारी पुलिस भीकनगांव श्री संजु चौहान एवं थाना प्रभारी चौनपुर निरीक्षक श्री निर्मल कुमार श्रीवास के नेतृत्व मे सउनि पुनमचंद पवार, सउनि रमेश पवार, सउनि चन्द्रकांत महाजन, आर. 649 शंशाक, आर. 606 आसिफ खान, का विशेष योगदान रहा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!