आगामी गणेशोत्सव पर शांति समिति की बैठक सम्पन्न

आगामी 31 अगस्त से आरंभ होने वाले गणेश चतुर्थी पर्व को शांति एवं भाईचारे के साथ समारोह पूर्वक मनाए जाने के संबंध में शांति समिति की बैठक सम्पन्न हुई। बैठक को संबोधित करते हुए सांसद श्री ज्ञानेश्वर पाटील ने कहा कि त्यौहार हमारा अपना है। शासन की गाइड लाइन का पालन करेंगे तो त्यौहार अच्छे से मना पाएंगे।

किसी भी प्रकार की असामाजिक गतिविधि होती है तो प्रशासन को तत्काल अवगत करायें। सभी लोग अपने अपने आसपास का माहौल अच्छा बनाएं। बैठक को संबोधित करते हुए कलेक्टर श्री अनूप कुमार सिंह ने कहा कि गलत नारे का इस्तमाल न करें। पाण्डालों में सीसीटीवी कैमरे लगाना अत्यंत आवश्यक है। पाण्डालों तथा मूर्तियों के हिसाब से सीसीटीवी कैमरे लगाए जायें। आयोजन समिति के सभी व्यक्तियों के नाम संबंधित थाने में तथा पाण्डालों में रहने वाले दो-दो व्यक्तियों के नाम भी अलग से दिए जायें।

विसर्जन के समय झांकिया परम्परागत मार्ग से निकाली जायेगी तथा डीजे प्रतिबंधित रहेगा। विसर्जन के लिए रात्रि आठ बजे तक सभी झांकी जलेबी चौक आना है। गलत गाने एवं नारे नहीं लगाएं, झांकी की थीम की जानकारी अवश्य रूप से एसडीएम तथा संबंधित थाने में दी जाये। झांकी व्यवस्थापक के लिए ड्रेस कोड जरूरी है, जिससे आवश्यकता अनुसार जरूरत पड़ने पर उन्हें पहचाना जा सके।

जिले में धारा 144 प्रभावित है तथा धारदार हथियार लेकर न चले, अगर पाए गए तो संबंधित के विरूद्ध कार्यवाही की जायेगी। विसर्जन पदम कुण्ड में होगा, अखाड़ों में अस्त्र शस्त्रों का प्रयोग नहीं होगा। कलेक्टर श्री सिंह ने विद्युत विभाग को निर्देश दिए कि विद्युत कनेक्शन देते समय सेफ्टी का ध्यान रखें, क्योंकि पाण्डाल लोहे के पाइप से बनाए जाते है। साथ ही नगर निगम एवं पीडब्ल्यूडी को निर्देश दिए कि रोड रिपेयरिंग का कार्य तत्काल करें। बैठक में झांकी संचालकों से भी सुझाव मांगे गए। बैठक में पुलिस अधीक्षक श्री विवेक सिंह नेे अपील की कि त्यौहार सभी लोग शांतिपूर्वक तरीके से त्यौहार मनाएं।

सोशल मीडिया पर गलत तरीके से प्रचार प्रसार न करें। अगर कोई पाया गया उसके विरूद्ध कार्यवाही निश्चित है। जहां पाण्डाल एवं प्रतिमा बड़ी है, वहां पर वालेंटियरों की संख्या ज्यादा रखी जाये। एक रजिस्टर बनाया जायें, जिसमें चीता मोबाइल चेकिंग के दौरान अपने हस्ताक्षर करेंगे। पाण्डाल में रात को कोई सोये नहीं जागते रहे। लाईटिंग सुरक्षात्मक दृष्टि से करें, जिससे दुर्घटना न हो। पाण्डाल के पीछे भी लाइट लगाई जाये। लाईट की लाइन का कार्य विद्युत विभाग के कर्मचारियों से ही कराये। विसर्जन के समय ट्रेक्टर ट्राली दुरूस्त रखें। साथ ही डीजल पर्याप्त मात्रा में रहे, जिससे झांकी रूकने न पाए। सभी से अपेक्षा है कि त्यौहार अच्छी तरह धूमधाम से मनाएं।

शहर काजी सैय्यद निशार अली ने कहा कि सभी पार्षदगण अपने अपने क्षेत्र की निगरानी रखें। बैठक में अपर कलेक्टर श्री एस.एल. सिंघाड़े, नगर निगम आयुक्त श्रीमती सविता प्रधान गौड़, एसडीएम श्री अरविंद कुमार चौहान, संयुक्त कलेक्टर श्री कुमार शानू देवड़िया, सीएसपी श्री पूनमचंद यादव सहित संबंधित अधिकारीगण तथा शांति समिति के सदस्यगण मौजूद थे।

गुरु ग्रंथ साहिब महाराज जी का 418 वा प्रथम प्रकाश पूरब मनाया गया

झिरन्या गुरुद्वारा साहिब में सिखों के हाजर नाजर गुरु गुरु ग्रंथ साहिब महाराज जी का प्रथम प्रकाश पूरब बड़ी श्रद्धा एवं उत्साह पूर्वक मनाया गया और गुरुद्वारा साहिब में विशेष सजावट की गई।

सुबह 5:15 बजे गुरु ग्रंथ साहिब महाराज जी का प्रकाश किया गया उपरांत नितनेम का पाठ और शब्द गायन किया गया एवं अखंड पाठ साहिब जी की समाप्ति की गई और खंडवा से पहुंचे भाई ईश्वर सिंह जी एवं जसवीर सिंह जी राणा जी द्वारा कथा और कीर्तन किया समाप्ति समाप्ति उपरांत गुरु का अटूट लंगर वरताया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!