गंदगी और अव्यवस्थता, जिम्मेदारों को सुध नहीं

झिरन्या। ग्राम पंचायत झिरनिया में प्रत्येक बुधवार को हाट बाजार लगाया जाता है। बाजार में बाहर से एवम् स्थानीय व्यापारी अपनी सैकड़ों दुकानें लेकर झिरनिया हॉट बाजार में पहुंचते हैं,परंतु बाजार में इस प्रकार गंदगी होने से व्यापारियों व ग्राहकों को इस गंदगी का सामना करना पड़ता है,बाजार ठेके के संचालक द्वारा पंचायत प्रशासन को इस समस्या को लेकर कई बार अवगत करवाया गया परंतु पंचायत प्रशासन द्वारा यहां साफ सफाई करवाना उचित नहीं समझा।

पंचायत प्रशासन द्वारा जिन ठेको की नीलामी लाखों करोड़ों मे की जाती हैं उनसे लाखो की आवक होती है, किंतु पंचायत द्वारा बाजार में साफ सफाई न करवाना समझ से परे है पंचायत प्रशासन के इस उदासीन रवैये से आम जनता एवं बाजार में आए व्यापारियों को कचरे व गंदगी के ऊपर से गुजरना पड़ता है।स्वच्छता के नाम पर लाखों के बिल एवम हर महीने सफाई कर्मचारियों का नियमित वेतन डालने एवम बाजार ठेके से लाखो के आवक आने के बावजूद पंचायत कर्मचारियों का इस और ध्यान आकर्षित नही होता यह बहुत निंदनीय है।

झिरनिया के मेन मार्केट की जाली टूटे 1 माह से अधिक समय हो गया पर पंचायत सुध तक नही ले रहीयह बेंक ओफ़ इंडिया के सामने की जाली हैं, जिसके ऊपर से वाहनो का आना जाना लगा रहता हैं मेन रोड होने से आने जाने वालों के लिए दिक़्क़त हो रही हैं ग्रामीणों का कहना है की जब तक कोई हादसा नहीं होगा उसके बाद ही पंचायत द्वारा इसको सही किया जाएगा।

रमन भाटिया की रिपोर्ट

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!