महाअष्टमी का महत्व,माता की बरसेगी कृपा

नवरात्रि के अंतर्गत आज अष्टमी है जिसे महाअष्टमी भी कहा जाता है, वैसे तो नवरात्रि के 9 दिनों का महत्व है लेकिन नवरात्रि की अष्टमी तिथि का काफी महत्व होता है। आज लोग व्रत खोलने के साथ ही कन्या पूजन भी करते हैं। कल 4 अक्टूबर को महानवमी मनाई जाएगी। आज के दिन मां महागौरी की पूजा की जाती है।

माना जाता है कि महागौरी की पूजा करने से शारीरिक और मानसिक समस्याओं से मुक्ति मिलती है। महागौरी के पूजन में में नौ साल की कन्याओं की पूजा करने का विधान है। माना जाता है कि महागौरी की उम्र भी आठ साल की थी। कन्या पूजन से धन वैभव और परिवार में सुख शांति बनी रहती है।

रविवार 6:22 से अष्टमी तिथि आरम्भ हो जाएगी और 3 अक्टूबर सोमवार को शाम 4:00 बजे तक रहेगी। कन्याओ के पूजन पश्चात उन्हें लाल रंग का सामान भेंट करना शुभ माना जाता है। नौ कन्याओं की पूजा के अलावा आज के दिन किसी सुहागिन स्त्री को भी लाल रंग की साड़ी और शृंगार का सामान भेंट करना चाहिए माना जाता है कि इससे घर परिवार में सुख समृद्धि आती है और माता दुर्गा की कृपा बनी रहती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!