सेंधवा मंडी प्रांगण मे 130 जोड़ों का विवाह संपन्न हुआ।

सेंधवा में मुख्यमंत्री कन्यादान विवाह योजना के तहत सेंधवा के मंडी प्रांगण मे 130 जोड़ों का विवाह संपन्न हुआ।

मंडी प्रांगण में गायत्री परिवार के माध्यम से सामूहिक विवाह पूर्णतः विधि विधान से किया गया।जनपद पंचायत के द्वारा इस कार्यक्रम समुचित व्यवस्था की गई।

गायत्री परिवार के माध्यम से किए गए इस सामूहिक विवाह में पर्यावरण संरक्षण हेतु वर – वधु को एक पौधा दिया गया।

प्रायवेट स्कूलों में निःशुल्क प्रवेश के लिए ऑनलाइन आवेदन अब 5 जुलाई तक

ऑनलाइन लॉटरी 14 जुलाई कोबड़वानी 02 जुलाई 2022/शिक्षा का अधिकार कानून में सत्र 2022-23 में प्रायवेट स्कूलों की प्रथम कक्षा में निःशुल्क प्रवेश के लिए ऑनलाइन आवेदन अब 5 जुलाई तक किए जा सकेंगे। पूर्व में यह तिथि 30 जून तक निर्धारित थी।

संचालक राज्य शिक्षा केंद्र श्री धनराजू एस ने बताया कि पात्रतानुसार निजी विद्यालय में निःशुल्क प्रवेश के लिए आवेदकों का चयन ऑनलाइन लॉटरी द्वारा 14 जुलाई को किया जायेगा। वर्तमान में स्थानीय निकाय निर्वाचन प्रक्रिया में शासकीय सेवकों की ड्यूटी और कई पालकों द्वारा ऑनलाइन आवेदन के बाद सत्यापन कार्य नहीं कराए जा सकने की स्थिति में छात्र हित को देखते हुए समय-सारणी में संशोधन किया गया है।

संशोधित समय-सारणी अनुसार पोर्टल पर ऑनलाइन आवेदन और त्रुटि सुधार 5 जुलाई तक किया जा सकेगा। ऑनलाइन आवेदन के बाद निकट के सत्यापन केंद्र में सत्यापनकर्ता अधिकारियों से 9 जुलाई तक सत्यापन कराए जा सकेंगे। रेंडम पद्धति से 14 जुलाई को ऑनलाइन लॉटरी द्वारा बच्चों को स्कूलों का आवंटन किया जाएगा। स्कूल आवंटन के बाद संबंधित बच्चा 23 जुलाई तक प्रवेश ले सकेगा।

नशे में धूत चैनपुर के शिक्षक श्री भालेकर को किया निलंबित

जनजातीय कार्य विभाग के सहायक आयुक्त एवं परियोजना प्रशासक ने नशे में धूत शामावि चैनपुर के माध्यमिक शिक्षक श्री संतोष भालेकर को निलंबित करने के आदेश जारी किए हैं। ज्ञात हो कि 30 जुन को दोपहर में ग्रामिणों की शिकायत एवं भेजे गए वीडियो के आधार पर विकासखण्ड स्त्रोत समन्वयक, जनपद शिक्षा केन्द्र झिरन्या द्वारा शामावि चैनपुर का निरीक्षण किया गया था। कलेक्टर श्री कुमार पुरुषोत्तम ने शिकायत की गंभीरता को देखते हुए विभाग को रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश दिए गए थे।

निरीक्षण के दौरान माध्यमिक शिक्षक श्री भालेकर नशे में धूत होकर शाला में बेसूद पड़े हुए थे। साथ ही ग्रामिणों ने शिकायत की है कि श्री भालेकर प्रतिदिन शाला में समय में शराब के नशे में रहते हैं, जिससे शाला में प्रवेश लेने वाले नवीन विद्यार्थियों एवं अध्ययनरत विद्यार्थियों की शिक्षा पर विपरित प्रभाव पड़ता है। साथ ही शाला में श्री भालेकर द्वारा शाला में मध्यान्ह भोेजन प्रारंभ नहीं कराना, विद्यार्थियों की अंकसूची, टीसी का वितरण न करना तथा शाला भवन में 3 मतदान केन्द्र हैं फिर भी शाला भवन की रंगाई पुताई का कार्य नहीं कराया जैसी लापरवाही बरती गई है। वहीं शाला संचालन में लापरवाही करने पर मप्र सिविल सेवा (आचरण) नियम 1965 के नियम 3 के विपरित होने से मप्र सिविल सेवा (वर्गीकरण, नियंत्रण तथा अपील) नियम 1966 के नियम 9 (1) के तहत मावि चैनपुर के शिक्षक श्री भालेकर को तत्कात प्रभाव से निलंबित किया है। निलंबन अवधि में श्री भालेकर का कार्यालय विकासखंड शिक्षा अधिकारी गोगांवा रहेगा। इन्हें निलंबन अवधि में नियमानुसार जीवन निर्वाह भत्ता दिया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!