खरगोन पुलिस ने मोबाईल चोरी के 04 आरोपियों को गिरफ्तार कर 18 मोबाईल किए जप्त

पुलिस मुख्यालय भोपाल के आदेशानुसार संपत्ति संबंधी अपराधों मे अपराधियों के विरुध्द लगातार कार्यवाही की जा रही है। खरगोन पुलिस द्वारा आदतन अपराधियों पर लगातार निगाह रखने के लिए वरिष्ठ अधिकारियों द्वारा इसकी रोकथाम विशेष अभियान चलाने के संबंध मे निर्देशित किया गया है। जिसके परिपालन मे पुलिस महानिरीक्षक इंदौर ग्रामीण झोन श्री राकेश गुप्ता, पुलिस उपमहानिरीक्षक निमाड रेंज तिलक सिंह के निर्देशन मे पुलिस अधीक्षक खऱगोन धर्मवीरसिंह, अति.पुलिस अधीक्षक खरगोन (ग्रामीण) जितेन्द्रसिंह पवांर, अति.पुलिस अधीक्षक खरगोन (शहर) मनीष खत्री, अनुविभागीय अधिकारी पुलिस (भीकनगाँव अनुभाग) श्री संजु चौहान के मार्गदर्शन मे थाना भीकनगाँव मे मेले से मोबाईल चोरी करने वाले के विरुद्ध कार्यवाही की गई है।

गत दिवस मंगलवार को थाना भीकनगाँव पर सूचना प्राप्त हुई की 04 संदिग्ध लोग जो कि चोरी की योजना बनाने के उद्देश्य से अंजनगांव हैण्डपम्प के पास मिलने वाले है। मुखबिर के सूचना पर तत्काल कार्यवाही करते हुए पुलिस टीम का गठन कर रवाना किया गया।

शांति व भाईचारे के साथ मनाएं गणेश चतुर्थी का पर्व,मूर्ति स्थापना एवं पाण्डालों के आयोजकों से की अपील

मंगलवार को पुलिस कन्ट्रोल रूम में मूर्ति स्थापना एवं पाण्डालों के आयोजकों की बैठक लेकर एसडीएम श्री अरविंद चौहान ने कहा कि 31 अगस्त से गणेश चतुर्थी पर्व आयोजित हो रहा है, इसे सभी शांति एवं भाईचारे के साथ मनाएं। बैठक में बताया गया कि किसी भी प्रकार की असामाजिक गतिविधि होती है तो प्रशासन को तत्काल अवगत करायें।

बैठक में एसडीएम श्री चौहान ने कहा कि विसर्जन के समय झांकिया परम्परागत मार्ग से निकाली जायेगी तथा डीजे प्रतिबंधित रहेगा। विसर्जन के लिए रात्रि आठ बजे तक सभी झांकी जलेबी चौक आना है। गलत गाने एवं नारे नहीं लगाएं, झांकी की थीम की जानकारी अवश्य रूप से दी जाये। झांकी व्यवस्थापक के लिए ड्रेस कोड जरूरी है, जिससे आवश्यकता अनुसार जरूरत पड़ने पर उन्हें पहचाना जा सके।

उन्होंने बताया कि जिले में धारा 144 प्रभावित है तथा धारदार हथियार लेकर न चले, अगर पाए गए तो संबंधित के विरूद्ध कार्यवाही की जायेगी। बैठक एसडीएम श्री चौहान ने आयोजकों से कहा कि विद्युत व्यवस्था के लिए मीटर लेना आवश्यक है।

बैठक को संबोधित करते हुए सीएसपी श्री पूनमचंद यादव ने कहा कि गलत नारे का इस्तमाल न करें। पाण्डालों में सीसीटीवी कैमरे लगाना अत्यंत आवश्यक है। पाण्डालों तथा मूर्तियों के हिसाब से सीसीटीवी कैमरे लगाए जायें। आयोजन समिति के सभी व्यक्तियों के नाम संबंधित थाने में तथा पाण्डालों में रहने वाले व्यक्तियों के नाम भी अलग से दिए जायें। उन्होंने कहा कि सोशल मीडिया पर गलत तरीके से संदेश प्रसारित न करें। जहां पाण्डाल एवं प्रतिमा बड़ी है, वहां पर वालेंटियरों की संख्या ज्यादा रखी जाये।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!