इंदौर जिले के 400 बुजुर्गों को राज्य शासन के खर्च पर करायी जायेगी रामेश्वरम की तीर्थ यात्रा

आवेदन की अंतिम तिथि 9 सितम्बर


मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान की पहल पर लागू की गई मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना के तहत इंदौर जिले के 400 बुजुर्गों को रामेश्वरम की तीर्थ यात्रा करायी जायेगी। इस यात्रा का सभी खर्च राज्य शासन द्वारा वहन किया जायेगा। यह यात्रा जिले के डॉ. अम्बेडकर नगर महू से 17 सितम्बर को रवाना होगी। कलेक्टर श्री मनीष सिंह ने तीर्थ यात्रियों को रामेश्वर ले जाने की जवाबदारी महू के तहसीलदार श्री अभिषेक शर्मा को सौपी है। बताया गया कि यह यात्रा इंदौर, देवास, उज्जैन होते हुये रामेश्वरम जायेगी। रामेश्वरम से यह यात्रा 23 सितम्बर को इंदौर आयेगी। यात्रा की व्यापक तैयारियां की जा रही है।

वेन में अचानक आग लग जाने के मामले कलेक्टर शिवराज सिंह वर्मा की त्वरित कार्रवाई

बड़वानी 5 सितंबर। सोमवार को ग्राम कुसमरी के नजदीक हिमालय एकेडमी पिपरीबुजुर्ग की बच्चों को स्कूल ले जा रही वेन में अचानक आग लग जाने के कारण धमाका होने पर वेन पूर्णतः जल गई। कलेक्टर शिवराजसिंह वर्मा ने उक्त घटना पर तुरंत कार्यवाही करते हुए एसडीएम राजपुर वीरसिंह चौहान को हिमालय एकेडमी पिपरी बुजुर्ग के संचालक सर्वेश कुमार पिता गोविंद निवासी दिल्ली हाल मुकाम पिपरी बुुजुर्ग के विरूद्ध एफआईआर करने के निर्देश दिये।

कलेक्टर के निर्देश के परिपालन में एसडीएम राजपुर द्वारा जुलवानिया थाने पर एफआईआर दर्ज करवाई गई है। साथ ही एसडीएम राजपुर द्वारा घटना स्थल एवं स्कूल का भी निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के आधार पर उन्होने कलेक्टर शिवराजसिंह वर्मा को हिमालय एकेडमी पिपरी बुजुर्ग के स्कूल संचालक व शिक्षण समिति के विरूद्ध उचित कार्यवाही हेतु प्रतिवेदन प्रस्तुत किया है।

प्रतिवेदन में उल्लेखित किया गया है किः-🔶स्कूल संचालक द्वारा निजी वाहन वेन का संचालन एलपीजी गैस के माध्यम से किया जा रहा था। 🔶 सोमवार को ग्राम कुसमरी में सुनिल पिता घीसालाल बड़ोले की दुकान से एक बच्चा वैन में बैठने वाला था। वैन उसकी दुकान के सामने रूकी तब उसने देखा की वैन के पिछले भाग में नीले रंग की आग निकल रही है। तब श्री सुनिल ने दौड़कर बच्चों को वाहन से उतारकर बच्चों को वैन से दूर किया। बच्चों के उतरते ही वैन में बहुत बड़ा धमाका हुआ और वैन पूर्णतः जल गई।

🔶हिमालय एकेडमी पिपरीबुजुर्ग का संचालन जखईबाबा शिक्षण समिति हाटपिपल्या जिला देवास के द्वारा किया जाता है। जिसमें 7 सदस्य है एवं सभी सदस्यो का निवास देवास में है। 🔶विद्यालय किराये के भवन में संचालित होना पाया गया है। भवन का आकार लगभग 40X50 वर्ग फीट में बना होकर कक्षा नर्सरी से 8वीं तक कुल 11 कक्षाएं संचालित है। परन्तु भवन कुल 8 कक्ष का ही है। एक कक्ष में एक से अधिक कक्षाएं संचालित है।🔶स्कूल भवन में एक कक्ष में कार्यालय संचालित हो रहा है तथा एक कक्ष में एक शिक्षिका दो बच्चों के साथ निवासरत है। 🔶 विद्यालय में कुल 80 छात्र दर्ज है तथा प्राचार्य सहित 6 शिक्षक पदस्थ है। परंतु निरीक्षण के दौरान शिक्षक ही उपस्थित पाये गये तथा कोई भी विद्यार्थी उपस्थित नही थे।

🔶भवन में अग्निशामक यंत्र के उपयोग की अंतिम तिथि 12 जनवरी 2021 होकर अवधि बाहर हो चुकी थी। 🔶निरीक्षण में शिक्षकों की उपस्थिति का रजिस्टर नही पाया गया। 🔶 उपस्थित शिक्षकों द्वारा बताया गया कि उन्हे 3 से 4 हजार रुपये प्रतिमाह वेतन मिलता है एवं उनके द्वारा 2 से 3 कक्षाओं के बच्चों को एक साथ पढ़ाया जाता है। 🔶 मौके पर उपस्थित शिक्षकों में से किसी का भी नाम स्कूल की मान्यता के लिए स्वघोषणा सह आवेदन 07 मार्च 2022 में नही पाया गया। आवेदन पत्र में दर्ज नाम पृथ्क है जबकि मौके पर अलग शिक्षक उपस्थित पाये गये। 🔶 अनुमति आवेदन में समस्त शिक्षक डीएलएड या बीएड योग्यताधारी बताये गये परन्तु मौके पर उपस्थित एक मात्र शिक्षिका डीएड पाई गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!