खामियों और लापरवाही के चलते मध्यप्रदेश के 92 अस्पतालों की मान्यता निरस्त

स्वास्थ्य विभाग द्वारा अस्पतालों में हो रही गड़बड़ी और लापरवाही पर निगरानी रखी जा रही थी जिसके तहत ग्वलियर में 19 प्राइवेट अस्पतालों की मान्यता रद्द कर दी है।इसी के अंतर्गत मध्यप्रदेश में 92 प्राइवेट अस्पतालों के लाइसेंस रद्द कर दिए गए हैं।

दरअसल मध्यप्रदेश के जबलपुर के अस्पताल में आग लगने के हादसे के बाद से स्वास्थ्य विभाग ने यह फैसला लिया है।मान्यता रद्द किए गए अस्पतालों में भोपाल का गांगुली मेट्रो सिटी हॉस्पिटल, देव श्री हॉस्पिटल,मेघा नर्सिंग होम,सज्जाद नर्सिंग होम, विहान पैलिएटिव नर्सिंग होम, मिलेनियम हॉस्पिटल, न्यू आयुष्मान हॉस्पिटल, केएनपी हॉस्पिटल एंड मेडिकल रिसर्च इंस्टीट्यूट, उज्जवल नर्सिंग होम, प्रयास बर्न एंड सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल, वैष्णो हॉस्पिटल, RRS हॉस्पिटल बंगरसिया हॉस्पिटल एंड ट्रॉमा सेंटर सहीत लगभग 19 अस्पताल लिस्टेड है।

अस्पतालों में जबलपुर के 33, भोपाल के 20 और ग्वालियर के 19 हॉस्पिटल शामिल हैं। नियमों के मुताबिक दस्तावेज ना मिलने पर इन सभी अस्पतालों की मान्यता कैंसिल की गई है। इस दौरान फायर NOC सहीत दूसरे मापदंडों पर चेकिंग की गई।जानकारी के अनुसार कई कमियों के तहत अस्पतालों को चलाया जा रहा था।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!