सोशल साइट का उपयोग सोच समझ करें हो सकती है धोखाधड़ी,गेंम्बलिंग का साधन बने ऑनलाइन गेम

खरगोन। प्रधान जिला न्यायाधीश मण्डलेश्वर श्री डी.के. नागले के मार्गदर्शन में प्रथम जिला न्यायाधीश संजय कुमार गुप्ता, जिला न्यायाधीश एवं सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण मण्डलेश्वर श्री नरेन्द्र पटेल की उपस्थिति में चरक फार्मेसी मण्डलेश्वर में हिन्दी दिवस के अवसर पर साक्षरता शिविर का आयोजन किया गया।शिविर में न्यायाधीश श्री संजय कुमार गुप्ता ने साइबर क्राइम की जानकारी देते हुए छात्र-छात्राओं को मोबाइल का उपयोग सोच समझकर करना चाहिए।

किसी अनजान व्यक्ति द्वारा आपका ओ.टी.पी. या एटीएम कार्ड नम्बर, सीवीवी नम्बर मॉगे जाने पर नही देना चाहिए। क्योंकि यह नम्बर महत्वपूर्ण होते हैं यदि आप किसी व्यक्ति से नम्बर शेयर करते हैं, तो आपके साथ धोखा हो सकता हैं। आजकल किसी विश्वसनीय कंपनी का नाम लेकर आपको कॉल आता हैं कि आप उक्त कंपनी की लॉटरी जीत चुके हैं। व्यक्ति बड़े नाम की कंपनी से संबंधित फोन कॉल होने पर व्यक्ति उस पर विश्वास कर लेता हैं और अपनी जानकारी शेयर करता हैं, तो उसका आर्थिक नुकसान हो जाता हैं। इसलिए यदि कोई किसी भी कंपनी का नाम लेकर आपको लक्की विनर बताकर कोई जानकारी मॉगता हैं तो कृपया उससे बचे। आजकल पबजी, लूडो से गेम भी फ्री नहीं रहे। वह गेंम्बलिंग का साधन बन चुके हैं।

ऐसे ऐप से बचे, जिनमें हीरो चोर को बताया जाता हैं, जो समाज को गलत दिशा में ले जा रहा हैं और ऐसे गेम देखकर बालक अपराधिक प्रवृत्ति से प्रेरित हो रहे हैं। वर्तमान समय में जो लड़के, लड्किया अपने प्राइवेट फोटोग्राफ्स शेयर करते हैं। उन्हें अपने व्यक्तिगत फोटो शेयर करने से बचना चाहिए, क्योंकि सायबर अपराधी प्राइवेट फोटो का गलत इस्तेमाल कर सकता हैं। लड़की को ब्लेकमेल कर सकता हैं। लड़किया किसी भी अनजान व्यक्ति को मोबाइल नम्बर नहीं दे।शिविर में जिला न्यायाधीश एवं सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण मण्डलेश्वर नरेन्द्र पटेल ने छात्र-छात्राओं को संबंोधित करते हुए कहा कि हिन्दी भाषा हमारा गौरव हैं। हिन्दी भाषा की उत्पत्ति संस्कृत द्वारा हुई हैं। जिसमें अंग्रेजी से अधिक स्वर एवं व्यंजन होते हैं। हिन्दी एक सरल भाषा हैं, जिसे हमारे दैनिक दिनचर्या में नियमित रूप से बोला व पढ़ा जाता हैं। विद्यार्थियों को हिन्दी भाषा एवं हिन्दी साहित्य की जानकारी दी एवं हिन्दी के विभिन्न लेखकों जैसे- विष्णुश्रीधर वाकणकर, गुरूदत्त, श्रीराम शर्मा आर्चाय, जयशंकर प्रसाद, कबीर, मीराबाई, सुमित्रानंदन पत्र, जयशंकर प्रसाद एवं मैथलीशरण गुप्त की समाचार पत्रों में छपने वाले व्याख्यान आदि को पढ़ना चाहिए। साथ ही विद्यार्थियों को बताया कि 18 वर्ष की आयु के पश्चात् लाईसेंस बनवाकर ही वाहन चलाना चाहिए और यातायात के नियमों का पालन करना चाहिए।

गाड़ी चलाते समय इस बात का विशेष ध्यान रखना चाहिए कि गाडी चालक उतावलेपन में वाहन नहीं चलाना चाहिए। गाड़ी की स्पीड तय गति में ही चलाना चाहिए जिससे दुर्घटना की संभावना नहीं रहती हैं। विद्यार्थियों को संविधान में दिए गए मूलभूत मौलिक कृतव्यों का भी पालन करना चाहिए।इस दोर चरक फार्मेसी मण्डलेश्वर के डायरेक्टर भगवानदास पाटीदार, चेयरमेन डॉ बद्रीप्रसाद पाटीदार, अस्सिटेंट प्रोफेसर अंजुला पाटीदार मैनेजमेंट प्रतिनिधि लतिल पाटीदार, कार्यक्रम का संचालन दुर्गेश कुमार राजदीप ने किया। आभार अस्सिेंट प्रोफेसर केलेन्द्र मलगाया ने माना। इस अवसर पर श्री जोजू एम.आर पी.एल.व्ही एवं छात्र-छात्राएं उपस्थित रही।

छात्रा ने कॉलेज में किया प्रथम स्थान प्राप्त

शासकीय पोलिटेक्निकल कालेज सेधवा की छात्रा प्रचिती संजय काले ने डिम्पलोमा सिविल इंजिनियरिग मे कालेज मे 8003 प्राप्त कर कालेज मे प्रथम स्थान प्राप्त किया।

प्रथम स्थान प्राप्त करने पर कालेज प्राचार्य की प्रमोद आहले भू.पू. नगरपालिका अध्यक्ष राजेन्द्रमोनियानी एवं प्रद्युमन रतावजिया सर ने बधाई दी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!